Subscribe Us

स्वच्छ शरीर,निर्मल मन और स्वच्छ नगर किसी स्वर्ग से कम नहीं 






*सुनील कुमार माथुर*

       हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को साफ सुथरा बनाये रखने और प्लास्टिक की थैलियों का उपयोग बंद करने का जो आव्हान किया है वह सराहनीय व स्वागत योग्य कदम है । अगर हर गली , मौहल्ला, गांव , शहर साफ सुथरा होगा तो राष्ट्र साफ सुथरा होगा और जब समूचा राष्ट्र साफ सुथरा होगा तो बिमारियों का भी खात्मा होगा एव आम नागरिक स्वस्थ होगा तो विकास की गंगा तेजी से बहेगी । अतः साफ सफाई के अभियान को मात्र सरकार के भरोसे न छोडे और आमजन इस अभियान में अपनी भागीदारी निभाये एवं राष्ट्र को स्वच्छ व कचरा मुक्त रखने में तन मन से सहयोग करें ।

          अपने घर के कूडे कचरे को कचरा पात्र में एवं निर्धारित स्थान पर ही डालें तथा सार्वजनिक स्थान पर न गंदगी फैलाये और न ही किसी को फैलाने दे । स्वच्छ भारत मिशन के तहत अपने घरों में शौचालय का निर्माण कर उपयोग करें एवं खुले में सोच नहीं करें 

         पाॅलिथिन जानलेवा है इसलिए प्लास्टिक की थैलियों का उपयोग न करें । इनका उपयोग दंडनीय अपराध है । पाॅलिथिन के लगातार उपयोग से कैंसर जैसी बीमारी हो सकती है । पाॅलिथिन को गाय जैसे पशु खाते है जिससे उनकी मृत्यु हो जाती है । पाॅलिथिन गलाने से भी नहीं गलती है , यह पर्यावरण के लिए हानिकारक है व इसे जलाने से प्रदूषण फैलता है जिससे आॅखों की रोशनी भी जा सकती है पाॅलिथिन नालियों में जमा होने से मच्छर पैदा हो जाते है  जिससे अनेक बीमारियां फैलती है । अतः प्लास्टिक की थैलियों का उपयोग बंद करें एवं जूट एवं कपडे के थैले का उपयोग करें । हम सबका एक ही नारा : प्लास्टिक मुक्त हो राष्ट्र हमारा । 

         अतः देशवासी प्लास्टिक की थैलियों के बजाय कपडे का थैला उपयोग में ले वही दूसरी ओर सभी दुकानदार  , ठेले वाले  , सब्जी विक्रेता पाॅलिथिन की थैलियों के बजाय कागज व कपडे के बैग में सामान दें । आम जनता के साथ ही साथ सभी विक्रेता भी इस अभियान को सफल बनाने में अपनी भागीदारी निभाये । तभी तो कहा गया है कि स्वच्छ शरीर  , निर्मल मन और स्वच्छ नगर किसी स्वर्ग से कम नहीं है 

*सुनील कुमार माथुर ,33 वर्धमान नगर शोभावतो की ढाणी खेमे का कुआ पालरोड जोधपुर राजस्थान पिन 342001






 























शब्द प्रवाह में प्रकाशित आलेख/रचना/समाचार पर आपकी महत्वपूर्ण प्रतिक्रिया का स्वागत है-


अपने विचार भेजने के लिए मेल करे- shabdpravah.ujjain@gmail.com


या whatsapp करे 09406649733







टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां