Subscribe Us

हाइकु सप्तक :कोरोना



*पुष्पा सिंघी


कोरोना भारी
बेबस मजदूर
सफर जारी !


लाॅक डाउन
युद्ध वायरस से 
जीतना हमें !


जगत त्रस्त
ग्रहण कोरोना का
हटेगा कब ?


दूर मंज़िल
कोरोना-जनक की
हँसी कुटिल !


बड़ी उद्दंड 
विषकन्या कोरोना
दें मृत्युदंड !


सूनी गलियाँ
आबाद हुए घर
कोरोना-डर !


चूनर धानी
सौमनस्य की धारा
हमें बहानी !


*पुष्पा सिंघी , कटक


साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/ रचनाएँ/ समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखे-  http://shashwatsrijan.com


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां