Subscribe Us

किसान


✍️सुनील कुमार माथुर

किसान अन्न उपजाता हैं और

दिन - रात कडी मेहनत करके

वह फसल तैयार करता हैं 

सर्दी  , गर्मी और वर्षा में भी 

वह खून पसीना बहाकर 

फसल उगाता है लेकिन 

देखों इस देश का दुर्भाग्य 

वह अपनी फसल का मालिक होकर भी

अपनी मर्जी के दामों पर 

फसल को नहीं बेच पा रहा हैं 

बिचौलियें बीच में आकर

कोडियों के भाव में 

फसल को खरीद रहें है और 

ऊंचे दामों पर जनता में बेचकर

रातों रात करोड़पति बन रहें है 

विरोध करने पर किसानों को

लाठियों से पीटा जाता हैं 

उनकी फसल पर हमारे 

राजनेता राजनीति की

रोटियां सेक रहें है 

अपने आपकों लोक कल्याणकारी 

कहने वालीं सरकारें भी

किसानों को लुटने में पीछे नहीं रहीं है 

किसानों को फसल के पूरे दाम न देकर

किसानों का दिन - दहाडे शोषण हो रहा हैं 

फसल का मालिक होकर भी

वह असहाय है  , लाचार हैं 

बेसहारा है लेकिन 

किसानों के कल्याण के नाम पर

नेता व बिचौलिएं अपनी

राजनैतिक रोटियां सेक रहें है 

*जोधपुर राजस्थान 

 


अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।


साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब हमारे वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com


यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw 




टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां