Subscribe Us

हिन्दी से तुम प्यार करो 



✍️सुषमा दीक्षित शुक्ला


हिंदुस्तान के रहने वालों ,
हिंदी से तुम प्यार करो ।


ये पहचान है मां भारत की,
हिंदी  का सत्कार  करो ।


हिंदी के  विद्वानों  ने तो ,
परचम जग में फहराए।


संस्कार  के सारे  पन्ने,
हिंदी से ही हैं पाए ।


 देवनागरी लिपि में अपनी,
 छुपा  हुआ अपनापन है ।


अपनी प्यारी भाषा हिंदी,
 भारत मां का दरपन है ।


हिंदुस्तानी  होकर तुमने ,
यदि इसका अपमान किया ।


तो फिर समझो भारत वालों ,
खुद का ही नुकसान किया।


हिंदुस्तान के रहने वालों,
हिंदी से तुम प्यार करो ।


यह पहचान है माँ भारत की ,
हिंदी  का सत्कार  करो ।


अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।


साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब हमारे वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com


यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw 


 


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां