Subscribe Us

ये राम  मंदिर चिन्ह है



✍️सुषमा दीक्षित शुक्ला


माँ भारती की आन का ।
वीरों के  बलिदान का ।


राम  मंदिर प्रतीक है ,
राष्ट्रीय स्वाभिमान का


मान रखा राम जी ने  ,
न्याय के सम्मान का।


प्रेम से  मंदिर बने अब  ,
महा  प्रभु श्री  राम का ।


विश्व पटल पर सम्मानित है,
पावन  चरित्र श्री राम  का ।


ये राम  मंदिर चिन्ह है ,
इस  राष्ट्र  सम्मान  का  ।


रूह  रूह मे  राम बसे हैं
धड़कन  में माँ  जानकी ।


चारों धाम  समाये जिसमें,
जय बोल अयोध्या धाम की ।


*बहराइच


अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।


साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com


यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw 


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां