Subscribe Us

ये जीवन है एक किताब



*महेंद्र कुमार वर्मा


ये जीवन है एक किताब ,

इसमें खिलते ख़ुशी गुलाब।

 

मेहनतकश के जीवन में  ,

पूरे होते सारे ख्वाब।

 

वो होते जीवन में पास ,

जिनके होते सही जवाब।

 

यहाँ दरोगा का है राज ,

उनका चलता खूब रुवाब।

 

कमजोर  को जो दुख देते ,

उनकी आदत बड़ी खराब।

 

करे जो जनता की  सेवा,

कहते उसको सभी नवाब।

*पुणे [महाराष्ट्र]


अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।


साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com


यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw 


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां